MYCUREHEALTH

आक के फूल के फायदे

चहरे की झुर्रियों और दांत दर्द को ठीक करे आक का फूल, इस तरह करें इस्तेमाल

 447 total views

आक के फूलों से सेहत को होने वाले  फायदे

Aak Flower Benefits: झाड़ियों में आपने आक का पौधा लगा हुआ काफी बार देखा होगा, जिसे कई नामों से भी जाना जाता है, जिसमें अकवान, अकौआ, मदार, स्वॉलो वोर्ट और कई अन्य शामिल हैं। लेकिन आपने इसके इस्तेमाल से अनजान होकर इसे इग्नोर कर दिया होगा। 

कई लोग आक के फूलों से शिव जी की पूजा करते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह फूल शरीर की कई परेशानियों को दूर करने में प्रभावी हो सकता है। 

आक का पौदा
    आक का पौदा

आक के फूल का इस्तेमाल स्किन के दाग-धब्बों को दूर करने के साथ-साथ सिदरदर्द की परेशानियों को कम करने के लिए भी किया जाता है। आइए जानते हैं आक के फूलों से शरीर को होने वाले फायदे क्या हैं?

 

झुर्रियों की परेशानी होगी कम (Remove wrinkles from face)


आक के फूलों का इस्तेमाल आप झुर्रियों की समस्याओं को दूर करने के लिए कर सकते हैं।  इसके लिए आक के फूलों का 3 ग्राम करीब चूर्ण लें। 

अब इसमें थोड़ी सी हल्दी, गुलाबजल और दूध मिक्स करें. इसके बाद इस लेप को चेहरे पर लगाएं।  इससे झुर्रियों की समस्या दूर की जा सकती है।  साथ ही दाग-धब्बों से भी छुटकारा पा सकते हैं। 

सिरदर्द और कान दर्द से राहत (Relief in Headache & Earache)

 

कान दर्द और सिदर्द की परेशानी को दूर करने के लिए आक के फूलों का इस्तेमाल करें।  इसके साथ ही यह माइग्रेन में होने वाले दर्द को भी दूर कर सकता है।  इसके लिए आक के फूलों का रस निकालकर इसे सिर पर लगाएं. 

आंखों की समस्या करे दूर (Relief in Eye Problems)

आक के फूलों का इस्तेमाल आंखों की परेशानियों को दूर करने के लिए कर सकते हैं। 

इसके लिए आक के फूलों को सूखा लें।  अब इसमें थोड़ा सा गुलाबजल मिक्स करके इसे आंखों के आसपास लगाएं।  इससे आंखों की खुजली, दर्द और भारीपन दूर हो सकता है. 

दाढ़ के दर्द से आराम (Relief From Toothache)

आक के फूलों का इस्तेमाल दाढ़ के दर्द को कम करने के लिए कर सकते हैं। 

इसके लिए आक के दूध को निकाल लें।  इसमें थोड़ा सा घी मिक्स करके रुई की मदद से दाढ़ पर लगाएं।  इससे दाढ़ का दर्द कम होगा।  साथ ही दांतों के दर्द से भी आराम मिल सकता है।  

 

मोटापे और मधुमेह को ठीक करे (Cure with Obesity and Diabetes)

क्या कुछ ऐसा हो सकता है जो एक साधारण स्पर्श से समस्या को ठीक कर सके? यह एक मजाक है, है ना? हालाँकि, यह तथ्यात्मक है। आपने शायद “आक के पत्ते” के बारे में सुना होगा।

इसे कई नामों से भी जाना जाता है, जिसमें अकवान मदार, स्वॉलो वोर्ट और कई अन्य शामिल हैं। कई लोगों के लिए इसे जहरीला माना जाता है लेकिन ऐसा नहीं है।

आक के पत्तों को अक्सर चमत्कारी पत्तों के रूप में वर्णित किया जाता है। वे एक आसान स्पर्श से मधुमेह और मोटापे (भारी पेट) का इलाज करने में मदद कर सकते हैं। आज हम इसी के बारे में चर्चा करेंगे।

आक के पौधे हर जगह तरह-तरह की प्रजातियों में पाए जाते हैं। उनके पास नीले-सफेद फूल हैं जो कांटेदार फल के साथ हैं।

यह कई धर्मों से जुड़ा हुआ है क्योंकि भगवान शिव की पूजा में फलों और फूलों का उपयोग किया जाता है। आइए चर्चा करते हैं कि कैसे आक के पत्ते मोटापे या मधुमेह में मदद कर सकते हैं।

  • आक के पौधे के लिए दो पत्ते पर्याप्त होते हैं।
  • दूसरी तरफ, जो मोटा है, इसे अपने तलवों पर रखें और फिर अपने मोज़े पर रखें।
  • व्यायाम को दोनों पैरों से दोहराएं।
  • सुनिश्चित करें कि पत्ते आपके तलवों को पूरी तरह से नहीं छू रहे हैं।
  • पत्ते पूरे दिन रहने चाहिए सोने से पहले, उन्हें हटा दें और अपने पैरों को धो लें।
  • एक सप्ताह के लिए नई पत्तियों का उपयोग करके प्रक्रिया को दोहराएं।
  • एक हफ्ते के बाद ब्लड शुगर टेस्ट के लिए जाएं।

 

ये भी पढें..

रोजाना पिएं नमक का पानी, स्वास्थ्य को मिलेंगे दोगुने ज्यादा फायदे

सर्दियों में हो हाथ-पैरों में जकड़न, तो इन तरीकों से करें ठीक

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Translate »
Scroll to Top
%d bloggers like this: