MYCUREHEALTH

back pain in morning

सुबह उठने के बाद कमर में हो रहा है तेज दर्द तो जाने इसके कारण और उपचार 

 704 total views

सुबह उठने के बाद कमर में हो रहा है तेज दर्द तो जाने इसके कारण और उपचार

 

Back Pain In Morning: बदलती जीवनशैली में इंसान कई तरह की परेशानियों से गुजर रहा है। इन परेशानियों में पीठ के निचले हिस्से में दर्द शामिल है।

पीठ में दर्द होना बहुत ही सामान्य बात है, लेकिन अक्सर हम सुबह के अंदर बहुत दर्द का अनुभव करते हैं।जैसे ही हम उठते हैं पीठ के निचले हिस्से में दर्द होना हमें बहुत परेशान कर सकता है।

इसके पीछे कई मकसद हो सकते हैं। उम्र बढ़ने के लक्षणों और लक्षणों से युक्त।  दरअसल, उम्र के साथ हड्डियों का घनत्व काफी कम होने लगता है, जिससे फिर से दर्द हो सकता है।

इसके अलावा सुबह उठने के बाद कमर दर्द के कई कारण हो सकते हैं। आज इस लेख में हम सुबह उठने के बाद कमर के अंदर होने वाले दर्द के बारे में विस्तार से जानेंगे।

सुबह कमर में दर्द क्यों होता है

 

गलत करवट (Wrong Posture) 

 

सुबह के समय पीठ में दर्द गलत दिशा में या एक ही तरफ झपकी लेने के कारण हो सकता है। यदि आप समान रूप से झपकी ले रहे हैं तो इस आदत को बाहर निकालें। रात भर में कम से कम चार से पांच बार पहलू बदलें। इससे फिर से दर्द का इलाज मिल जाएगा।

ऑस्‍टि‍योपोरोस‍िस (Osteoporosis)

कमर दर्द ऑस्टियोपोरोसिस की वजह से भी हो सकता है। यह एक ऐसी स्थिति है जिसमें हड्डियां धीरे-धीरे कमजोर होने लगती हैं। यदि आप ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित हैं, तो तुरंत अपने चिकित्सक से संपर्क करें।

स्‍ल‍िप ड‍िस्‍क (Slipped Disc)

 

स्लिप डिस्क के अंदर की गड़बड़ी भी सुबह उठने के बाद फिर से दर्द का कारण बन सकती है। यदि आप इस प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं, तो एक्सपर्ट से तुरंत सलाह लें. 

कैल्शियम और विटामिन डी 3  की कमी (Calcium and Vit-D3 Deficiency)

 

शरीर में कैल्शियम की कमी होने के कारण सुबह उठने के बाद भी आपको कमर के निचले हिस्से में दर्द हो सकता है। यदि आप दर्द से त्रस्त हैं, तो तुरंत किसी डॉक्टर से किसी  से सलाह लें।

घर पर पीठ दर्द का इलाज कैसे करें (Cure Of backpain at Home)

 

वॉक करना (Keep Moving)

 

जब आप दर्द में हों तो आपको यह अनूठा अनुभव नहीं होगा। लेकिन यह प्राथमिक चिकित्सा हो सकता है जो आपका ठीक करने मे हेल्प करेगा।

अपनी दैनिक जीवन मे प्रतिदिन घूमने जाने की आदत बनाए इसमे जरूरी नहीं आप तेज वॉक करें आप धीमे भी कर सकते हैं।

यह 30 मिनट की तेज चहलकदमी हो सकती है या अपने कुत्ते के साथ ब्लॉक का चक्कर लगा सकते हैं। सप्ताह में कम से कम 3 बार अपने पैरों पर खड़े होने का लक्ष्य रखें और अगर आप घूमने जा सकते हैं तो प्रतिदिन जरूर घूमने जाएँ।

मांसपेशियां का खिंचाव (Muscles Stretching)

 

मजबूत मांसपेशियां, विशेष रूप से आपके पेट के कोर में, आपकी पीठ को सहारा देने में मदद करती हैं। ताकत और लचीलापन दोनों आपके दर्द को दूर करने और इसे रोकने में मदद कर सकते हैं।

लेकिन अगर आप बड़े हैं या इसे ज़्यादा करने के बारे में चिंतित हैं, तो आप दिन में बाद में अपने शरीर को गर्म कर सकते हैं और अपने मजबूत करने वाले व्यायाम कर सकते हैं। जैसे योग, प्लटेस, ताई ची इत्तियाद।

पॉस्चर ठीक करे (Keep Good Posture)

 

यह आपकी पीठ के निचले हिस्से पर दबाव को कम करने में मदद करता है। आप अपनी रीढ़ की हड्डी को अलाइनमेंट में रखने के लिए टेप, स्ट्रैप्स या स्ट्रेची बैंड्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

अपने सिर को अपने श्रोणि पर केंद्रित रखने का लक्ष्य रखें। अपने कंधों को न झुकाएं और न ही अपनी ठुड्डी को आगे की ओर झुकाएं।

एंटी-इन्फ़्लामेट्री पेय (Take Anti-inflammatory Drink Everyday)

जब आप नियमित रूप से एंटी-इन्फ़्लामेट्री भोजन खाते हैं, तो आपके रक्त में कई एंटीऑक्सिडेंट, एंटी-इन्फ़्लामेट्री, या यहां तक ​​कि कैंसर विरोधी एजेंट भी बढ़ जाते हैं। जो आपके बॉडी को बहुत सारी बीमारी से निपटने मे मदद करते हैं।

सामान्य आधार पर इन हेल्दी ड्रिंक्स का सेवन करने से भी आपके कमर दर्द को कम करने में मदद मिल सकती है।

हल्दी वाला दूध (Turmeric Milk)

हल्दी, एक एशियाई मसाला, में एंटीऑक्सीडेंट, एंटी आर्थेराइटिस , और सूजन को कम करने वाले गुण विदमान होते हैं।

हल्दी का सेवन करने का एक आसान तरीका एक गिलास गर्म दूध में थोड़ी मात्रा में (1/2 चम्मच) हल्दी पाउडर मिलाना है।

यदि आप मीठा स्वाद पसंद करते हैं तो आप दूध में शहद या स्टीविया मिला सकते हैं। सोते समय एंटी इन्फ़्लामे प्रक्रिया को काम करने के  लिए सोने से ठीक पहले इस दूध का सेवन करें।

अदरक-हरी  चाय (Ginger-Green Tea)

आप अदरक-हरी चाय सहित प्राकृतिक पेय का भी सेवन कर सकते हैं, जिसमें हरी चाय और अदरक दोनों के दर्द निवारक लाभ शामिल हैं।

अदरक-हरी चाय का समान किराने की दुकानों से खरीदा जा सकता है और आप आसानी से एक कप में आनंद ले सकते हैं।
यह आपको कमर मे सूजन और दर्द से बचाने में मदद करेगा।

विटामिन  D3 और कैल्सियम पूरक आहार लेना (Calcium and Vit-D3 Food add in you Diet)

यदि आपका स्वास्थ्य व्यवसायी सहमत है, तो आहार D3 पूरक लेने पर विचार करें। विटामिन डी हड्डी, न्यूरोमस्कुलर और इम्यून सिस्टम  फंक्शन के लिए महत्वपूर्ण है।

आहार D3 पूरक लेने से आपके हड्डियों  के लिए कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ाने और हड्डियों की ताकत बढ़ाने के माध्यम से पीठ के दर्द को कम करने में मदद करता है।

ये भी पढ़ें-

जोड़ों के दर्द को दूर करने के लिए रक्त में यूरिक एसिड के स्तर को नियंत्रित करने के अचूक उपाए 

सर्दियों में हो हाथ-पैरों में जकड़न, तो इन तरीकों से करें ठीक

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Translate »
Scroll to Top
%d bloggers like this: