हेपेटाइटिस बी कैसे फैलता है

 2,294 total views

हेपेटाइटिस बी कैसे फैलता है?

मनुष्य ही इस रोग के विषाणुओं का स्रोत होता है। बहुत से व्यक्तियों में हेपेटाइटिस बी के कोई लक्षण नहीं होते लेकिन बो विषाणुओं के वाहक बने रहते हैं। ऐसे व्यक्ति भी रोग फैलाने मे सक्षम होते हैं। इसके अलावा प्रत्यक्ष लक्षण वाले रोगियों से भी ये बीमारी लग सकती है।

ये रोग पानी या भोजन से नहीं फैलता बल्कि इसके लिए विषाणुओं का रक्त के से संपर्क होना जरूरी होता है। दूषित रक्त या उससे बने रक्त उत्पाद बीमारी फैलाने के प्रमुख भूमिका निभाते हैं। हेपेटाइटिस बी का वाइरस वातावरण में 7 दिन तक जीवत रह सकता है। लेकिन उवालने से विषाणु नष्ट हो जाते हैं।

हेपेटाइटिस बी 20 से 40 वर्ष के व्यक्तियों को अपना सिकार अधिक बनाता है। माँ के पेट में पल रहे शिशु और छोटे बच्चों में भी यह रोग हो जाता है।

यह रोग किन माध्यमों से ज्यादा फैलता है

जैसा की बतलाया गया है, यह रोग लगभग उन्ही माध्यमों से ज्यादा फैलता है, जिन माध्यमों से एचआईवी (एड्स) फैल सकता है। रोग फैलने के तरीके कुछ इस प्रकार हैं।

1- रक्तवाहिकाओं द्वारा – वास्तव में यह बीमारी रक्तजनित (ब्लड- बोर्न ) ही होती है। यदि रोग का वाइरस रक्त दूसरे मरीज को चढ़ा,दिया जाये तो उसी भी ये रोग हो सकता है।

इसके अलावा डायलेसिस,दूषित सीरिंज, सुइयाँ अथवा दुर्घटनावश सुई चुभने या कटने से भी संक्रमण हो जाता है।

गोदने, कर्णछेदन, नाई के उस्तरे या दूषित ब्लेड से भी इसका वाइरस एक दूसरे व्यक्ति मे चला जाता है। रोगी व्यक्ति के टूथ ब्रश से भी इसके संक्रमण की संभावना हो सकती है।

गर्भावस्था के दौरान यह रोग माँ से शिशु में भी जा सकता है।

2- यौन संपर्कों द्वारा- वेश्याओं और समलिंगी यौन आदतों बाले व्यक्ति इस रोग के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं। इनमें यौनगों पर बने घाओं द्वारा एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में वाइरस फैल जाता है। इस तरह जिनके कई यौन सहभागी होते हैं येसे व्यक्ति को इस रोग का खतरा अधिक रहता है।

विशेषज्ञों के अनुसार, इस रोग का वाइरस फैलाने के लिए 0.0004 मिली लि. ब्लड की मात्रा पर्याप्त होती है जबकि एड्स वाइरस फैलाने के लिए 0.01 मि. लि. ब्लड आवश्यक होता है। यह भी माना जा रहा है की हेपेटाइटिस बी का वाइरस एड्स के वाइरस से सौ गुना ज्यादा संक्रामक होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
%d bloggers like this: